मंगलवार, 31 जनवरी 2017

हे ईस्वर

आप सभी बन्धु बान्धव एवं मानव हित मे ईश्वर से कर्बद्ध प्राथना करता हु कि महेश्वर जन जन का कल्याण करे ! हे ईश्वर हे प्रभु पर्मेश्वर शक्तिशाली सर्वव्यापी शर्वेश्वर जगत पालक हे दिन बन्धु दायाँ सागर करुणा शिन्धु हे अस्ट नवनिधि दाता धन धान्य भाग्य विधाता हे विघ्न हरन मंगलमुरत करो जन कल्याण तुरत हे शुखराशी मालिक पालनहार हे घट घट बासी तारणहार दुख दुर कर सुख पुर कर करदो जन जन का उपकार आदि तुम्ही आनादी तुम्ही हो लय प्रलय के मालिक तुम्ही हो धर्म नियति उद्घोशक तुम्ही हो दिव्य दृष्टि का पोषक तुम्ही हो अधर्म का नास,कुदृष्टि का सर्वनाश मानवता हृदय मे करे सब का बास पल प्रतिपल प्रस्फुटन हो प्रकाश हो जन जन मे सभयता का विकाश भय त्राश से समाज निर्भय रहे अन्वरत्त ज्ञानशिल का धारा बहे विद्वान विद्वशि का सामान मिले आत्म गौरव का श्वभिमान बढे रचनाकार :-प्रभात पुनम

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

b